CAREER

By subhash
Last update:

UPSC क्या है और UPSC की तैयारी कैसे करें?

upsc kya hai

जब हम Civil service join करने की बात करते हैं तो हमारे  दिमाग में  UPSC जरूर आता है लेकिन क्या आप जानते हैं:

  • UPSC क्या है?
  • UPSC के लिए exam eligibility क्या होती है?
  • और यूपी एससी की परीक्षा प्रोसेस इसकी तैयारी कैसे करते हैं?

आज के इस पोस्ट में  हम इन्हीं topic के बारे में बात करेंगे और यूपी एससी के बारे में आपको पूरी जानकारी देने की कोशिश करेंगे.

 की पूरी जानकारी देने की कोशिश रहेगी  UPSC का full form Union Public Service Commission होता है तथा यूपी एससी को हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग कहा जाता है। 

UPSC क्या है?

UPSC यानी संघ लोक सेवा आयोग भारत की एक केंद्रीय संस्था है जिसे short में यूपी एससी कहा जाता है यह संस्था कई सिविल परीक्षा जैसे IAS, NDA, SCRA, CDS और IFS इत्यादि जैसे पदों के लिए परीक्षा का आयोजन करते हैं. 

upsc kya hai
upsc kya hai

आप कह सकते हैं कि यूपी एससी भारतीय और केंद्रीय सेवाओं के समूह ए और बी के कर्मचारियों की परीक्षा की जिम्मेदार एजेंसी है । 

यूपी एससी संस्था केंद्र शासित प्रदेशों के कर्मचारियों के लिए भी परीक्षा आयोजन करती है यह संस्था विभिन्न प्रशासनिक पदों के लिए साल में दो बार परीक्षा आयोजित करता है। 

UPSC का इतिहास?

यूपी एससी जिसे हम हिंदी में संघ लोक सेवा आयोग के नाम से जानते हैं इसका गठन आजादी से पहले 1अक्टूबर 1926 को लोक सेवा आयोग के नाम से हुआ था तथा आजादी के बाद संवैधानिक प्रावधानों के तहत 26 अक्टूबर 1950 लोक सेवा आयोग का पुन निर्माण निर्माण हुआ। जिसका नाम लोक सेवा आयोग से बदलकर संघ लोक सेवा आयोग रख दिया गया। 

बिना दबाव के योग्य कर्मचारियों की भर्ती के लिए इसे संवैधानिक दर्जा अनुच्छेद 315 के अंतर्गत स्वायत्तता प्रदान की गई ताकि योग्य कर्मचारियों की भर्ती हो सके बिना किसी दबाव के।

 UPSC के लिए योग्यता?

अगर उम्मीदवार IAS, IPS और IFS  परीक्षा के बारे में सोच रहा है तो उसके पास भारतीय नागरिकता होना आवश्यक है। तथा अन्य पदों के लिए स्थाई नागरिकता की आवश्यकता है.

 यूपीएससी के लिए education qualification 

उम्मीदवार के पास भारत में उपस्थित किसी  मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से डिग्री अनिवार्य है। 

 UPSC के लिए आयु सीमा?

सामान्य वर्ग के नागरिकों के लिए न्यूनतम आयु सीमा 21 वर्ष तथा अधिकतम आयु सीमा 32 वर्ष होनी चाहिए।

sc/st  के उम्मीदवारों के लिए आयु सीमा में 5 साल की छूट दी गई है।अन्य पिछड़ी जाति के लिए 3 साल की छूट दी गई है

 यहां ध्यान रखने वाली बात है कि यह आयु सीमा में फेरबदल की संभावना होती है तो आप ऑफिशियल साइट पर जाकर इसे चेक कर सकते हैं.

 अगर बात की जाए UPSC exam मैं मौकों की यानी number of attempts for upsc exam के बारे में सोच रहे हैं तो कुछ इस प्रकार से हैं:

  •  सामान्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 4 attempts
  •  ओबीसी (OBC) श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए 7 attempts 
  •  तथा अन्य श्रेणी के उम्मीदवारों के लिए असीमित मौके उपलब्ध है।

 UPSC exam process क्या है?

 यूपीएससी यानी संघ लोक सेवा आयोग की परीक्षा तीन चरणों में पूरी होती है प्रारंभिक परीक्षा(preliminary exam) मुख्य परीक्षा(main exam ) तथा साक्षात्कार(interview)।

 प्रारंभिक परीक्षा

 इसमें उम्मीदवार  से ऐसे सवालों जिससे उम्मीदवार के तर्क और विश्लेषणात्मक  क्षमता का पता चल सके, पूछे जाते हैं तथा इस परीक्षा के अंक अंतिम अंक के लिए नहीं दिए जाते इसमें 2 पेपर होते हैं जो 200 अंक के तथा 2 घंटे की अवधि के होते हैं।

 मुख्य परीक्षा

 इस परीक्षा को सिविल सर्विसेज CSAT  परीक्षा कहते हैं क्या परीक्षा 200 अंकों की परीक्षा है जिसकी अवधि 2 घंटे होती है।

 साक्षात्कार

 जैसे ही आप प्रारंभिक परीक्षा तथा मुख्य परीक्षा सफलतापूर्वक पार कर लेते हैं तब आप को साक्षात्कार के लिए बुलाया जाता है जिसमें उम्मीदवार के सामान्य ज्ञान कौशल तथा मानसिक स्थिति इत्यादि का आकलन किया जाता है।

 उपस्थित डाटा के अनुसार देखा जाए तो UPSC द्वारा आयोजित परीक्षा को 0.01% से 0.03% उम्मीदवार  ही निकाल पाते हैं तो इससे आप अंदाजा लगा सकते हैं कि यह कितना कठिन परीक्षाओं में से एक है इसके लिए आपको एक सही गाइडलाइंस की जरूरत है जिससे आप समझ पाए कि आपको  UPSC के एग्जाम  मैं सफल बनने के लिए किन-किन चीजों की जरूरत होती है।

 तो चलिए हम जानते हैं कि UPSC में सफल होने के लिए क्या करें?

 UPSC की तैयारी कैसे करें?

 जैसा कि मैंने बताया था  UPSC कितना मुश्किल है लेकिन अगर आप अपने सच्चे मन से मेहनत करते हैं और इसे अपने daily routine में डाल लेते हैं तो आप जरूर इसे निकाल सकते हैं तो मैं आज आपको कुछ चीजें बताने वाला हूं जो आपके इस एग्जाम में मदद करेगा।

 UPSC की परीक्षा स्ट्रक्चर को समझें:-

पिछले सालों के question paper practice करें हम हमेशा के सामने देखते हैं की क्वेश्चन कभी-कभार रिपीट में आ जाते हैं अगर आपने पुराने के सारे  question paper solve कर रखे हैं तो शायद आपको इसका फायदा होगा और साथ ही आपको एग्जाम पैटर्न के बारे में भी समझ हो जाएगी

 Daily न्यूज़ पेपर पढ़े:-

 आपने  कई सारे Toppers के इंटरव्यू में सुना होगा कि वह अपने एग्जाम के प्रिपरेशन के समय daily न्यूज़ पेपर पढ़ा करते थे  या आपके लिए फायदेमंद साबित होगा क्योंकि आप हमेशा uptodate रहेंगे और आपकी GK knowledge भी बढ़ती रहेगी.

NCERT Books को गहराई से पढ़ें:-

हम सभी जानते हैं कि एनसीईआरटी एक सरकारी किताब है तो यह हमारे लिए फ़ायदेमंद साबित हो सकती हैं.

 ऐसे प्रकाशन की किताब पढ़ें जो मशहूर हो:-

 हम हमेशा यही गलती करते हैं कि सस्ते चीजों के चक्कर में हम कई चीजें मिस कर जाते हैं तो आप हमेशा ऐसी किताबें चुने या पढ़ें जिस पर विश्वास हो।

 इंटरनेट की सहायता लें:-

क्योंकि हार्ड वर्क के साथ ही स्मार्ट वर्क भी जरूरी है आप चाहे तो online course भी  join कर सकते हैं.

Read more

DMCA.com Protection Status